Public Health

India’s medical system has very little to do with healthcare and everything to do with profiteering. It has one concern only: treatment for money. No wonder we keep poor health.

पुतले हम माटी के

[ लेख ‘गांधी मार्ग’ के नवंबर-दिसंबर २०१२ अंक में छपा है ] आज हम मंगल ग्रह के भूगोल के करीबी चित्र देखते हैं, चाँद पर पानी खोजते हैं और जीवन की तलाश में वॉएजर यान को सौरमंडल के बाहर भेजने… Read More ›

डीज़ल का ईंधनतंत्र

[ इस लेख का संपादित रूप दैनिक हिन्दुस्तान में 16 फरवरी को छपा था ] सोपान जोशी डीज़ल हमारे यहाँ पेट्रोल की तुलना मे चौथाई या तिहाई सस्ता बिकता है। पेट्रोल पर आबिकारी कर डीज़ल की तुलना मे सात गुणा… Read More ›